बिलासपुर जिला में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा में टिकट वितरण पर आरएसएस कि रहेगी विशेष भूमिका

बिलासपुर जिला में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा में टिकट वितरण पर आरएसएस कि रहेगी विशेष भूमिका 

न्यूज बिलासपुर बंधु (संतोष साहू)

बिलासपुर- नागपुर में आरएसएस का मुख्यालय है जिसकी बिलासपुर से दूरी लगभग 400 किलोमीटर के आसपास है। उसके बावजूद वर्ष 2018 के चुनाव में बिलासपुर में भारतीय जनता पार्टी के नेता अमर अग्रवाल की करारी नहीं शर्मनाक पराजय हुई। भाजपा का बड़ा दरफ्त धड़ाम से गिरा। राजनीति के जानकार मानते हैं कि वर्ष 2018 के चुनाव में आरएसएस की नाराजगी बिलासपुर में भाजपा को भारी पड़ गई। किंतु इस बार बिलासपुर जिले के राजनीतिक समीकरणों में आरएसएस के वह प्रकल्प जिनका राजनीति से सीधा संबंध है रुचि ले रहे हैं। ऐसा माना जा रहा है की इस बार बिलासपुर विधानसभा की टिकट वितरण में आर एस एस की प्रमुख भूमिका रहेगी और किसी प्रोफेशनल को भाजपा के टिकट पर चुनाव लडने का अवशर प्राप्त होगा सूत्र बताते है कि इस बार बिलासपुर शहर से भाजपा कि टिकट से लड़ने वाला व्यक्ति राजनीति से सीधा सरोकार रखने वाला व्यक्ति नहीं होगा।

फिर चाहे वह सीए हो, विधि विशेषज्ञ हो, डॉक्टर हो या बड़ा इंजीनियर किंतु टिकट तो राजनीति से बाहर के विशेष क्षेत्र पर काम करने वालों को ही मिल सकती है इसका सीधा अर्थ है कि बिलासपुर की राजनीति में ठेठ मारवाड़ीपन का विदा हो जाना तय माना जा रहा है। हालांकि इन दिनों एक व्यापारिक कौम भी भाजपा से टिकट का बड़ा दावा कर रही है वे आडवाणी युग से लेकर पुरानी भाजपा के समय की सेवा का जिक्र भी करते हैं और कहते हैं कि जीएसटी की मार से सबसे ज्यादा परेशान, प्रताड़ित, बर्बाद ट्रेड लाइन के व्यापारी हैं। ऐसे में विस्थापन के बाद पुनर्वास दिखाना जरूरी है। तभी नाराज व्यापारी का वोट बिलासपुर में दुबारा पार्टी के खाते में आएगा बिलासपुर से इस वर्ग को टिकट मिलने से तखतपुर और बेलतरा भी प्रभावित होगा ऐसा वर्ग विशेष का मानना है। जबकि दूसरी ओर पेशेवर बुद्धिजीवी वर्ग जो अपनी योग्यता के आधार पर आरएसएस से लंबे समय से जुड़ा है और छत्तीसगढ़ की राजनीति में आरएसएस की भूमिका और उस भूमिका की कार्यान्वयन में बिलासपुर शहर की अहमियत जानता है उसका विचार इससे उल्टा है और इस बार माना जा रहा है कि बिलासपुर जिला के भाजपा टिकट चयन में आरएसएस की भूमिका गंभीर से गंभीरतर होगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *