राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के छत्तीसगढ़ प्रदेश इकाई ने मनाया भगवान दत्तात्रेय कि जयंती

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के छत्तीसगढ़ प्रदेश इकाई ने मनाया भगवान दत्तात्रेय कि जयंती

न्यूज़ बिलासपुर बंधु (संतोष साहू)

बिलासपुर – राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के छत्तीसगढ़ इकाई ने भगवान दत्तात्रेय की जयंती मनाया। शहर से लगभग 30 किलोमीटर दूर रतनपुर के बूढ़ महादेव मंदिर में 18 दिसंबर को दोपहर 3:00 बजे पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने मिलकर भगवान शिव जी का पूजा एवं यज्ञ किया गया। और देश व प्रदेश में खुशहाल जीवन की कामना किया।
गौरतलब है कि मार्गशीर्ष मास की पूर्णिमा को दत्तात्रेय जयंती के रूप में भी मनाया जाता है। इस वर्ष यह 18 दिसंबर को मनाया गया। कहा जाता है कि इस दिन भगवान दत्तात्रेय का जन्म हुआ था। धार्मिक ग्रंथों के अनुसार भगवान दत्तात्रेय को ब्रह्मा, विष्णु, महेश तीनों का स्वरूप माना जाता है। दत्तात्रेय में ईश्वर एवं गुरु दोनों रूप समाहित हैं जिस कारण इन्हें श्री गुरुदेवदत्त भी कहा जाता है।मान्यता यह भी है कि दत्तात्रेय का जन्म मार्गशीर्ष मास की पूर्णिमा को प्रदोषकाल में हुआ था। श्रीमद्भागवत के अनुसार दत्तात्रेय जी ने 24 गुरुओं से शिक्षा प्राप्त की थी। भगवान दत्त के नाम पर दत्त संप्रदाय का उदय हुआ। दक्षिण भारत में इनके अनेक प्रसिद्ध मंदिर भी हैं। मार्गशीर्ष मास की पूर्णिमा को भगवान दत्तात्रेय के निमित्त व्रत करने एवं उनके दर्शन-पूजन करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

दत्तात्रेय स्वरूप

दत्तात्रेय जयंती प्रतिवर्ष मार्गशीर्ष माह की पूर्णिमा को मनाई जाती है। दत्तात्रेय के संबंध में प्रचलित है कि इनके तीन सिर हैं और छ: भुजाएं हैं। इनके भीतर ब्रह्मा, विष्णु तथा महेश तीनों का ही संयुक्त रुप से अंश मौजूद है। इस दिन दत्तात्रेय जी के बालरुप की पूजा की जाती है।
आज के इस शुभ अवसर पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रदेश महासचिव रामेश्वर केवट, प्रदेश सचिव अभिषेक निषाद, रमेश पांडेय, प्रदेश प्रवक्ता नीलेश विस्वास , जिलाध्यक्ष राजेश पटेल , लोकसभा प्रभारी सियाराम वर्मा,व रतनपुर नगर पंचायत के कार्यकर्ता गण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *