युवा कल्याण एवं खेलकूद विभाग ने सीमित बजट में क्रय किया गुणवत्ता युक्त खेलकूद सामग्री एवं उपकरण ,बचत राशि शासन को दिया वापस

युवा कल्याण एवं खेलकूद विभाग ने सीमित बजट में क्रय किया गुणवत्ता युक्त खेलकूद सामग्री एवं उपकरण ,बचत राशि शासन को दिया वापस

न्यूज बिलासपुर बंधु(संतोष साहू)

बिलासपुर- खेल अकादमी और खेलो इंडिया एक्सीलेंस सेंटर बहतराई के लिए विभाग द्वारा खेल सामग्री और उपकरण हाल ही में क्रय किया गया है मात्र 52 लाख रुपए के बजट से न केवल अच्छे गुणवत्ता युक्त सामान का क्रय हो गया बल्कि बचत राशि लगभग 2 लाख राजधानी वापस भेज दी गई। सरकारी महकमों में ऐसा कम ही होता है। यहां तो मार्च महीने में बिना खर्च की गई राशि को  रातों-रात फर्जी खरीदी से समाप्त कर देने का उदाहरण अन्य विभाग पर है। लेकिन न्यायधानी पर युवा कल्याण एवं खेलकूद विभाग द्वारा पूरी पारदर्शिता के साथ अधिनियम का पालन करते हुए सामग्री की खरीदी किया है।

जिला खेलकूद अधिकारी  ने पहले तो इस राशि के उपयोग से हाथ खींचते हुए एक से ज्यादा बार मंत्रालय को यह पत्र लिखकर निवेदन किया कि जरूरत के उपकरण और खेलकूद सामग्री मंत्रालय स्तर पर खरीद किया जाए। और एक्सीलेंस सेंटर खेल अकादमी को उसके जरूरत का सामान दे दिया जाए शायद उन्हें इस बात का पूर्व में ही अंदाजा था कि बिलासपुर जिले में निष्पक्षता से काम करो तो आरोप लगना तय है। 50 लाख रुपए की राशि में से 20 लाख के उपकरण और सामान सीएसआईडीसी तथा खादी ग्राम उद्योग से खरीदे गए। ऐसा सामान उपकरण जो इन दोनों संस्थानों के पास नहीं है वह कोटेशन के आधार पर खरीदा गया है मात्र 20 लाख रुपए का सामान पांच फर्म के बीच खरीदा गया है। इनमें से प्रत्येक के लिए अलग से कोटेशन आमंत्रित किए गए हैं। अब कहने वाले यही कह सकते हैं कि 5 में से बिलासपुर की एक ही दुकान थी। कोरबा, जांजगीर, से लिया गया 20 लाख रुपए की रकम में एक कंप्यूटर यूनिट, फर्नीचर उपकरण, खेलकूद का सामान, बिजली का कुछ सामान और क्रोकरी मुख्य रूप से लिया गया। सीएसआईडीसी, खादी ग्राम उद्योग से पलंग, गद्दे ,टेबल, कुर्सी, मच्छरदानी, तकिया जैसा सामान केंद्रीय भंडार छत्तीसगढ़ खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड से क्रय किया गया है।

हाल ही में इन सामानों में से कुछ सामान खेलकूद प्रतियोगिता के लिए निकाला गया था। एक्सीलेंस सेंटर में शीघ्र ही प्रशिक्षण सत्र आयोजित किए जाने वाले हैं और पूरे हॉस्टल को तैयार किया जा रहा है। गर्म पानी से लेकर शुद्ध पीने योग्य पानी के उपकरण भी लगाए जा रहे हैं। ऐसा माना जा सकता है कि बहतराई सेंटर पर आने वाले समय में खिलाड़ियों को एक अच्छा गुणवत्ता युक्त सामान वाला हॉस्टल और खेलकूद की सामग्री प्राप्त होगी। प्रशिक्षण लेकर वे अपने कैरियर का निर्माण कर सकेंगे।

Author Profile

Santosh Sahu / Editor-in-chief mobile / 98273-29895
Santosh Sahu / Editor-in-chief mobile / 98273-29895

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *